वेद के प्रकार और उनके महत्व

वेद कितने प्रकार के होते हैं।

वेद चार प्रकार के होते हैं।

1. ऋग्वेद

इसमें सृष्टि के पदार्थों का ज्ञान है। इसमें ईश्वर, जीव व प्रकृति के गुण, जीवन के आदर्श सिद्धांत और व्यवहारिक ज्ञान वर्णित है।

2. यजुर्वेद

यजुर्वेद में मुख्यत: कर्मकांड का वर्णन है। अर्थात मनुष्य अपने प्राप्त ज्ञान का किस प्रकार मनोवांछित एवं मोक्ष पाने के लिए प्रयोग करे।

3. सामवेद 

सामवेद के ईश्वर-स्तुति, वंदना-उपासना और आध्यात्मिक उन्नति के उपायों का वर्णन है। इसमें मूलत: संगीत का उपासना है।

4. अथर्ववेद

इसमें विज्ञान और तकनीकी ज्ञान का समावेश है। जैसे मनोविज्ञान, अर्थशास्त्र, समाजशास्त्र, राजनीति, कृषि, आयुर्वेद, गणित, ज्योतिष, रसायन शास्त्र आदि ।